ट्रंप के बयान पर कांग्रेस ने लोकसभा से किया वॉकआउट, बचाव में उतरे राजनाथ ने दी सफाई

image source: google

मोदी को लेकर कश्मीर पर मध्यस्थता वाले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बयान के बाद मामला और तूल पकड़ता जा रहा है. हालाँकि आपको बता दें कि ट्रंप के इस बयान को भारत सरकार ने सिरे से ख़ारिज कर दिया है और विदेश मंत्रालय की तरफ से इसका खंडन भी किया गया है. दरअसल ट्रंप ने पाक के पीएम इमरान खान की मुलाकात के बाद कहा था कि भारत के पीएम मोदी ने कश्मीर मामले में उनसे मध्यस्थता करने को कहा था.

ट्रंप के बयान पर मोदी को घेरने की कोशिश

जबकि भारत का कहना है कि पीएम मोदी ने ऐसा कुछ भी नहीं कहा है और कश्मीर के मामले में भारत किसी तीसरे पक्ष की भूमिका को स्वीकार नहीं करेगा और न ही इसमें किसी की दखलअंदाजी होनी चाहिए. बहरहाल, इस बयान को लेकर अब विपक्ष पीएम मोदी को घेरने में लगा हुआ है. वहीँ कांग्रेस के वॉकआउट करने के बाद देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी इस पर बड़ा बयान दिया है.

कांग्रेस ने किया वॉकआउट

उन्होंने कहा है कि भारत कश्मीर मामले में किसी की भी मध्यस्थता स्वीकार नहीं करेगा. इसके साथ उन्होंने यह भी भरोसा दिलाया है कि सरकार देश के सम्मान और स्वाभिमान के साथ किसी भी तरह का समझौता नहीं करने वाली है. उन्होंने आगे कहा कि हम सिर्फ कश्मीर ही नहीं बल्कि पाक अधिकृत कश्मीर की भी बात करेंगे. वहीँ ट्रंप के बयान पर सफाई देते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि पीएम मोदी और ट्रंप के बीच बातचीत की जून के में हुई थी.

राजनाथ सिंह ने दी सफाई

इसके साथ साथ उन्होंने यह भी कहा कि हमारे विदेश मंत्री ने इसका सीधे तौर पर खंडन किया है और साफ़ कर दिया है कि इस दौरान कश्मीर के मुद्दे पर कोई बात नहीं हुई थी. उन्होंने कहा कि इससे बड़ा सबूत क्या होगा कि जब पीएम मोदी और ट्रंप की बात हो रही थी तो विदेश मंत्री वहां मौजूद थे.